आईपीसी धारा 42 क्या है? । IPC Section 42 in Hindi । उदाहरण के साथ

आज मैं आपके लिए IPC Section 42 in Hindi की जानकारी लेकर आया हूँ, पिछली पोस्ट में हमने  आपको आईपीसी (IPC) की काफी सारी धाराओं के बारे में बताया है। अगर आप उनको पढ़ना चाहते हो, तो आप पिछले पोस्ट पढ़ सकते है। अगर आपने वो पोस्ट पढ़ ली है तो, आशा करता हूँ की आपको वो सभी धाराएं समझ में आई होंगी । अब बात करते है, भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 42 क्या होती है?

IPC Section 42 in Hindi
IPC Section 42 in Hindi

भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 42 क्या होती है?


IPC (भारतीय दंड संहिता की धारा ) की धारा 42 के अनुसार:-

स्थानीय विधि:- “स्थानीय विधि वह विधि है जो भारत के किसी विशिष्ट भाग को ही लागू हो।”


According to Section 42:-

Local law:- “A “local law” is a law applicable only to a particular part of India.”


Also Read –IPC Section 41 in Hindi


धारा 42 क्या है?

ऊपर जो IPC Section 42 की डेफिनेशन दी गयी है, वो कानूनी भाषा में दी गयी है, शायद इसको समझने में परेशानी आ रही होगी। इसलिए इसको मैं थोड़ा सिंपल भाषा का प्रयोग करके समझाने की कोशिश करता हूँ। IPC Section 42 को सरल शब्दों में समझाता हूँ ।

IPC Section 42 in Hindi में  Local Law के बारे में बताया गया है। Local Law उसको कहा जाएगा जो India के किसी Particular Part में ही लागू होगा। मतलब किसी खास जगह पर ही लागू होगा। पूरी India में लागू नहीं होगा। वह कोई खास जगह कोई Particular Area पर ही Applicable होगा। IPC और CRPC पूरे इंडिया में लागू होता है। इसलिए यह Local Law नहीं है। अब दिमाग में आ रहा होगा की Local Law कौन सा होता है। जैसे उत्तर प्रदेश के अंदर एक Reforms Land है। वह सिर्फ उत्तर प्रदेश के अंदर ही लागू होता है। कहने का मतलब यह है, कि जो भी कानून है। वह अगर किसी खास जगह के इंडिया की किसी एक Particular Area पर ही लागू होता है। जैसे मैंने उत्तर प्रदेश के अंदर लागू एक्ट बताया यह पूरे इंडिया में लागू नहीं होते हैं। इनको Local Law कहा जाएगा। यही IPC का Section 42 कहता है।

See also  आईपीसी धारा 51 क्या है? । IPC Section 51 in Hindi । उदाहरण के साथ

उम्मीद करता हूं। आपको भारतीय दंड संहिता (Indian Penal Code) के Section 42 समझ में आ गयी होगी। मैंने इसको सिंपल शब्दों में समझाने की कोशिश की है, अगर फिर भी कोई Confusion रह गई है, तो आप कमेंट बॉक्स में क्वेश्चन कर सकते है। मुझे आंसर देने में अच्छा लगेगा।

निष्कर्ष:

मैंने IPC Section 42 in Hindi को सिंपल तरीके से समझाने की कोशिश की है। मेरी ये ही कोशिश है, की जो पुलिस की तैयारी या लॉ के स्टूडेंट है, उनको IPC की जानकारी होनी बहुत जरुरी है। ओर आम आदमी को भी कानून की जानकारी होना बहुत जरुरी है।

4/5 - (1 vote)
Share on:

Leave a comment