इनकम टैक्स ऑफिसर कैसे बनें? आसान भाषा में जाने-

दोस्तों, इनकम टैक्स ऑफिसर एक पोस्ट का नाम है, जो कि सेंट्रल गवर्नमेंट के एक डिपार्टमेंट सीबीडीटी मतलब केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड के रूप में टैक्स संबंधित मामलों का कार्य करती है। आपको बता दूं कि इनकम टैक्स भारत सरकार का एक प्रमुख रेवेन्यू सोर्स है। वैसे इनकम टैक्स ऑफिसर को शॉर्ट में आईटीओ (ITO) भी कहा जाता है। इंडिया में बहुत सारे ऐसे लोग हैं जो टैक्स के डिफॉल्टर्स हैं।

आईटीओ की जिम्मेदारी है कि वह उन डिफॉल्टर्स को पकड़ें और उन्हें डिपार्टमेंट की ओर से नोटिस भेजे ताकि उन्हें उनकी रियल इनकम के अनुसार टैक्स का पेमेंट करने के लिए फोर्स किया जा सके। ऐसे में देश के कई युवाओं का इनकम टैक्स ऑफिसर बनने का सपना होता है, लेकिन उन्हें यह नहीं पता होता है की इनकम टैक्स ऑफिसर कैसे बना जाता है। दोस्तों इस लेख में हम आपको Income Tax Officer Kaise Bane से जुड़ी बहुत सारी जानकारी बिस्तार से बताने वाले है।

साथ ही हम आपको इनकम टैक्स ऑफिसर क्या होता है? इसके लिए क्वालिफिकेशन क्या चाहिए? उम्र सीमा क्या है? फॉर्म भरने के लिए फीस कितनी लगती है? फॉर्म भरने के लिए कितने परसेंट चाहिए? आदि जैसे सभी चीजों के बारे में विस्तार से बताने वाले हैं। तो अगर आप भी Income Tax Officer Kaise Bane के बारे में जानना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लेख को ध्यान से पूरा पढ़े।

Income Tax Officer Kaise Bane
Income Tax Officer Kaise Bane?

Income Tax Officer Kaise Bane?

आयकर विभाग अधिकारी का पद बहुत ही जिम्मेदारी और समझदारी वाला होता है। इसके लिए आपको चार एग्जाम की स्टेज से गुजरना होगा। यह पद पाने के लिए आपको कड़ी महनत करनी होगी तभी आप इसका एग्जाम पास कर पाओगे।

इनकम टैक्स क्या होता है? (What is Income Tax?)

दोस्तों, आप जो भी कमाते हैं या अर्न करते हैं उस इनकम पर आपको टैक्स रेट के हिसाब से टैक्स देना होता है। जो ऑफिसर आपकी इनकम से टैक्स वसूलते हैं उन्हें इनकम टैक्स ऑफिसर कहते हैं। दोस्तों इंडिया में दो तरह के टैक्स लगते हैं एक डायरेक्ट और दूसरा इनडायरेक्ट टैक्स।

  • डायरेक्ट टैक्स:- वह होता है जिसे आप अपनी इनकम पर सरकार को सीधे भुगतान करते हैं।
  • इनडायरेक्ट टैक्स:- एक ऐसा टैक्स है जो कोई और आपकी ओर से कलेक्ट करता है और गवर्नमेंट को पेमेंट करता है।
See also  chauri chaura kand: भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन का एक महत्वपूर्ण पल

इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के लिए क्वालिफिकेशन क्या चाहिए?

दोस्तों, इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के लिए आपको एसएससी सीजीएल (SSC CGL) का फॉर्म भरना होगा जो कि ग्रेजुएशन बेस पर है। मतलब अगर आपको ITO बनना है तो आपको किसी भी स्ट्रीम से ग्रेजुएशन पास होना चाहिए। मतलब अगर आपका ग्रेजुएशन आर्ट्स, कॉमर्स, साइंस या कोई और बैचलर डिग्री है, आप सीजीएल का फॉर्म भरने के लिए एलिजिबल हैं।

इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के लिए उम्र सीमा क्या है और छूट कितनी मिलती है?

उम्र सीमा की बात करूं तो इनकम टैक्स ऑफिसर पद के लिए कैंडिडेट की आयु सीमा 21 वर्ष और मैक्सिमम यानि ज्यादा से ज्यादा 27 वर्ष होनी चाहिए। तभी आप इसमें आवेदन कर सकते हैं। इसमें नियमानुसार एससी, एसटी और ओबीसी को उम्र में छूट देने का प्रावधान भी होता है। अगर कैटेगरी के हिसाब से छूट की बात करूं तो एससी एसटी को पाँच वर्ष, ओबीसी को तीन वर्ष, पीडब्ल्यूडी को 10 वर्ष की छूट मिलती है।

इनकम टैक्स ऑफिसर का फॉर्म भरने के लिए फीस कितनी लगती है?

एग्जाम का फॉर्म भरने के लिए ₹100 लगते हैं लेकिन कुछ स्टूडेंट्स को इस फीस में छूट भी मिलती है जैसे महिला कैंडिडेट, एससी एसटी से आने करने वाले कैंडिडेट, पीडब्ल्यूडी और एक्स सर्विसमैन की फीस नहीं लगती है। दोस्तों जिन्हें फीस का पेमेंट करना है वे भीम यूपीआई, नेट बैंकिंग के माध्यम से या वीवीआई मास्टर कार्ड, मेस्ट्रो रूपे क्रेडिट या डेबिट कार्ड का उपयोग करके या एसबीआई शाखा में कैश में एसबीआई चालान का उपयोग करके किया जा सकता है।

इनकम टैक्स ऑफिसर का फॉर्म भरने के लिए कितना परसेंट चाहिए?

दोस्तों, फॉर्म भरने के लिए मिनिमम यानि कम से कम क्वालिफिकेशन ग्रेजुएशन है। मतलब कोई भी बैचलर डिग्री होनी चाहिए और जहां तक परसेंटेज रिक्वायर्ड की बात है तो सिर्फ पास मार्क्स होना चाहिए। आप फॉर्म भरने के लिए एलिजिबल हैं। ध्यान रखिए यहां कोई परसेंटेज रिक्वायर्ड नहीं है।

इनकम टैक्स ऑफिसर के एग्जाम में कितने स्टेज होते हैं?

दोस्तों, एग्जाम के चार स्टेज होते हैं, Tier 1, Tier 2, Tier 3 और Tier 4। दोस्तों Tier 1 और Tier 2 कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट है। वहीं Tier 3 पेन और पेपर मोड है जिसे डिस्क्रिप्टिव पेपर कहते हैं और Tier 4 कंप्यूटर प्रोफिशिएंसी टेस्ट और डाटा इंट्री स्किल टेस्ट है। इतने सारे एग्जाम क्लियर करने के बाद ही आप इनकम टैक्स ऑफिसर बन पाएंगे।

See also  chauri chaura kand: भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन का एक महत्वपूर्ण पल

इनकम टैक्स ऑफिसर का सिलेबस क्या है?

जैसा कि आपको पता है कि Tier 1 और Tier 2 कंप्यूटर बेस्ड एग्जाम है। वहीं इन दोनों एग्जाम के सिलेबस में अंतर है।

Tier 1-
Tier 1 की बात करूं तो इसमें चार सब्जेक्ट से प्रश्न होते हैं। इसमें जो प्रश्न पूछे जाता है, उसमें जनरल इंटेलिजेंस एंड रीजनिंग, जनरल अवेयरनेस, क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड मतलब मैथ्स, इंग्लिश कॉम्प्रिहेंशन। इन सभी चारों सब्जेक्ट से 25-25 प्रश्न 50-50 मार्क्स के होते हैं। मतलब कुल 100 प्रश्न रहते है जो 200 मार्क्स के होते हैं।

इन सभी प्रश्न को सॉल्व करने के लिए आपको 60 मिनट का समय मिलता है, मतलब एक घंटे में आपको प्रश्न सॉल्व करने हैं। दोस्तों इसमें निगेटिव मार्किंग का भी प्रावधान है, हर गलत आंसर देने पर 0.50 मार्क्स काट लिए जाएंगे।

Tier 2-
इसके बाद आता है Tier 2 इसमें भी दो सब्जेक्ट से सवाल रहते हैं। दोनों सब्जेक्ट कुछ इस प्रकार हैं। क्वांटिटेटिव एबिलिटी, इंग्लिश लैंग्वेज एंड कॉम्प्रिहेंशन, क्वांटिटेटिव एबिलिटी से 100 क्वेश्चन 200 मार्क्स के होते हैं। वहीं इंग्लिश लैंग्वेज और कैंपर हेन्सन से दुगुना क्वेश्चन होता है, मतलब 200 क्वेश्चन 200 मार्क्स के होते हैं।

यहां ध्यान रखिए सभी सब्जेक्ट में अलग अलग दो दो घंटे का टाइम मिलता है। मतलब मैथ्स के लिए दो घंटे और इंग्लिश के लिए दो घंटे मिलते हैं। दोस्तों Tier 2 में भी निगेटिव मार्किंग का प्रावधान है। मैथ्स और इंग्लिश में अलग अलग है। जैसे मैथ्स से 0.50 मार्क्स काट लिए जाते हैं। वहीं इंग्लिश से 0.25 मार्क्स काट लिए जाते हैं।

Tier 3-
अब जानते हैं Tier 3 एग्जाम के बारे में, दोस्तों Tier 3 एग्जाम डिस्क्रिप्टिव पेपर का है। इसमें हिंदी या इंग्लिश में लिखना रहता है। आप जिस भाषा में लिख सकते हैं उसमें एस्से राइटिंग, प्रेस राइटिंग, लेटर, अप्लीकेशन लिखने को दिया जाता है। इसमें मिनिमम 33 परसेंट मार्क्स लाना जरूरी है, नहीं तो आप डिसक्वालिफाई हो जाएंगे। इस एग्जाम को क्वॉलिफाई करना बेहद जरूरी है।

Tier 4-
अब जानते हैं Tier 4 एग्जाम के बारे में, दोस्तों इसमें कंप्यूटर प्रोफिशिएंसी टेस्ट मतलब सीपीटी एंड डेटा इंट्री, स्पीड टेस्ट मतलब डीएसटी लिया जाता है। मतलब आपको हिंदी या इंग्लिश में टाइपिंग आनी चाहिए क्योंकि उसका भी टेस्ट लिया जाता है। यहां ध्यान दीजिए कि टियर फोर एग्जाम सिर्फ क्वालीफाई करने के लिए है क्योंकि इससे आपकी मेरिट में कोई फर्क नहीं पड़ता।

See also  chauri chaura kand: भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन का एक महत्वपूर्ण पल

इनकम टैक्स ऑफिसर की फिजिकल टेस्ट-

फिजिकल टेस्ट की बात करूं तो पुरुष कैंडिडेट के लिए लम्बाई (Height) 157.5 सेंटीमीटर, सीना फुलाकर 81 सेंटीमीटर। इसके बाद उम्मीदवार को पैदल चलकर 15 मिनट में 1600 मीटर की दूरी एवं साइकलिंग करते हुए 30 मिनट में आठ किलोमीटर की दूरी तय करना होगा।

वहीं महिला कैंडिडेट के लिए लम्बाई (Height) 152 सेंटीमीटर, वजन 48 किलोग्राम। इसके बाद महिला कैंडिडेट को पैदल चलकर 20 मिनट में एक किलोमीटर की दूरी और साइकलिंग चलाकर 20 मिनट में तीन किलोमीटर की दूरी तय करना होगा।

इनकम टैक्स ऑफिसर को सैलरी कितनी मिलती है?

आपको बता दूं की इनकम टैक्स ऑफिसर को काफी अच्छी सैलरी दी जाती है। शुरुआत में इसका ग्रेड पे 4600 रहता है जो कि 55,000 से लेकर 60,000 के बीच हो सकता है। साथ ही साथ DA भी मिलता है और इसके साथ ही बहुत सारी फैसिलिटी भी प्रोवाइड की जाती है। इसके अलावा जैसे-जैसे नौकरी में एक्सपीरियंस होते जाता है वैसे वैसे इनकम टैक्स ऑफिसर की सैलरी बढ़ती जाती है।

इनकम टैक्स ऑफिसर की तैयारी कैसे करें?

इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के लिए आपको पढ़ाई तो करनी पड़ेगी। यह तो आपको पता है लेकिन सिस्टमैटिक ढंग से पढ़ाई करने के लिए आपको डेली रूटीन बनाना होगा। मतलब स्टडी का टाइम टेबल बनाना होगा और आपको उसके अनुसार ही तैयारी करनी होगी।

देखिए सबसे पहले एसएससी सीजीएल का सिलेबस को समझिए और उसके अनुसार पढ़िए। इसके लिए आप किसी बढ़िया कोचिंग की भी हेल्प ले सकते हैं। या आजकल यूटूब पर भी बेहतरीन क्लासेज शुरू हो चुकी है। आपको यूट्यूब पर बेस्ट चैनल को खोजना होगा, जो आपकी एसएससी सीजीएल की तैयारी करवा दे।

FAQs-

उत्तर: इनकम टैक्स ऑफिसर बनने की आयु सीमा 21 से लेकर 27 वर्ष के बीच है। इसमें नियमानुसार एससी, एसटी और ओबीसी को उम्र में छूट देने का प्रावधान भी होता है।

उत्तर: इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के लिए किसी भी स्ट्रीम से ग्रेजुएशन पास होना जरूरी है।

उत्तर: इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के लिए पुरुषों को 157.5 सेंटीमीटर और महिलाओं को 152 सेंटीमीटर हाइट की जरूरत होती है।

उत्तर: इनकम टैक्स ऑफिसर की शुरुआती सैलरी 55,000 रूपये से लेकर 60000 रूपये के बीच में होती है।

निष्कर्ष:

तो दोस्तों, इस लेख के द्वारा आपने यह जाना की Income Tax Officer Kaise Bane, साथ ही इनकम टैक्स ऑफिसर बनने से जुड़ी पूरी जानकारी को हमने विस्तार से बताया है। ऐसे में अगर आप भी इनकम टैक्स ऑफिसर बनने का सपना देख रहे हो तो ऊपर दिए गए लेख को पढ़कर आप इसके बारे में सारी जानकारी एकत्रित कर सकते हो। आयकर विभाग अधिकारी बनना गर्व की बात होती है।

उम्मीद करता हूं कि यह लेखक को पसंद आया होगा। इस लेख को पढ़ने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।

5/5 - (2 votes)
Share on:

Leave a comment