आईपीसी धारा 25 क्या है? । IPC Section 25 in Hindi । उदाहरण के साथ

आज मैं आपके लिए भारतीय दंड संहिता (IPC Section 25 in Hindi) की धारा 25 की जानकारी लेकर आया हूँ, पिछली पोस्ट में हमने आपको आईपीसी (IPC) की काफी सारी धाराओं के बारे में बताया है। अगर आप उनको  पढ़ना चाहते हो तो आप पिछले पोस्ट पढ़ सकते है। अगर आपने वो पोस्ट पढ़ ली है तो,  आशा करता हूँ की आपको वो सभी धाराएं समझ में आई होंगी । अब बात करते है, भारतीय दंड संहिता   (IPC) की धारा 25 क्या होती है?

IPC Section 25 in Hindi
IPC Section 25 in Hindi

भारतीय दंड संहिता (IPC Section 25 in Hindi) की धारा 25 क्या होती है?

“ यदि कोई व्यक्ति किसी कार्य को कपट करने के आशय से करता है, उसे कपटपूर्वक कृत्य कहा जाता है, अन्यथा नहीं। ”

“ A person is said to do a thing fraudulently if he does that thing with intent to defraud but not otherwise. ”


Also Read –IPC Section 23 in Hindi


धारा 25 क्या है?

ऊपर जो IPC Section 25 की डेफिनेशन दी गयी है, वो कानूनी भाषा में दी गयी है, शायद इसको समझने में परेशानी आ रही होगी। इसलिए इसको मैं थोड़ा सिंपल भाषा का प्रयोग करके समझाने की कोशिश करता हूँ। IPC Section 25 को सरल शब्दों में समझाता हूँ ।

इस सेक्शन में “fraud” के बारे में बताया गया है। इसको हिंदी में छल, कपट या धोखा कहते है। जैसे कि मान के चलिए किसी ने अलग तरीके से, गैरकानूनी तरीके से अपनी ग्रेजुएशन की मार्क-शीट बनवा ली। उसको किसी कॉलेज में एडमिशन लेना था। उस कॉलेज में एडमिशन के लिए कम से कम ग्रेजुएशन में 90% मार्क्स चाहिए तभी मास्टर डिग्री में उसको एडमिशन मिलेगा। तो उसने ग्रेजुएशन की एक जाली, डुप्लीकेट मार्कशीट बनवा ली, और उसमे 92% मार्क्स कर दिए। हालांकि असलियत में उसके मार्क्स 60 % थे। उसने same to same डुप्लीकेट मार्क -शीट बनवा ली, और उस कॉलेज में मास्टर डिग्री के लिए एडमिशन ले लिया। अब इसमें उसका कोई Wrongful loss या Wrongful gain तो नहीं हुआ। अब इसको fraud entry बोला जाएगा। इसमें कोई ना कोई नुकसान जुड़ा होता है। इसमें नुकसान उस स्टूडेंट का हो गया। जिसको वाकई में वह सीट मिलनी चाहिए थी। जिसके रियल में 90 % मार्क्स आए थे। क्योंकि वो student 90 % वाला था उसको एडमिशन नहीं मिला। क्योंकि सीट्स फुल हो गई है। में आपको बता देता हूं, कि “fraud” के अंदर दो चीज़ें ज़रूर होंगी। एक तो इसमें कोई ना कोई secret होगा। मतलब कुछ ना कुछ छुपा होता है, किसी ने सामने वाले व्यक्ति से जिसके साथ “fraud” किया गया है। उसमे कुछ ना कुछ secret रखा जाता है। दूसरी बात इसके अंदर कोई ना कोई injury ज़रूर होती है। कोई ना कोई नुकसान होता है।

See also  IPC 142 in Hindi- विधिविरुद्ध जमाव का सदस्य होने की धारा 142 में सजा, जमानत और बचाव

उम्मीद करता हूं। आपको भारतीय दंड संहिता (Indian Penal Code) के Section 25 समझ में आ गयी होगी। मैंने इसको सिंपल शब्दों में समझाने की कोशिश की है, अगर फिर भी कोई Confusion रह गई है, तो आप कमेंट बॉक्स में क्वेश्चन कर सकते है। मुझे आंसर देने में अच्छा लगेगा। 

मैंने भारतीय दंड संहिता IPC Section 25 को सिंपल तरीके से समझाने की कोशिश की है। मेरी ये ही कोशिश है, की जो पुलिस की तैयारी या लॉ के स्टूडेंट है, उनको IPC की जानकारी होनी बहुत जरुरी है। ओर आम आदमी को भी कानून की जानकारी होना बहुत जरुरी है।

5/5 - (1 vote)
Share on:

Leave a comment