आईपीसी धारा 8 क्या है? । IPC Section 8 in Hindi । उदाहरण के साथ

आज मैं आपके लिए भारतीय दंड संहिता (IPC Section 8 in Hindi) की धारा 8 की जानकारी लेकर आया हूँ पिछली पोस्ट में हमने आपको आईपीसी (IPC) की धारा 7 क्या है? इनके बारे में बताया था। आशा करता हूँ की आपको समझ में आया होगा। अब बात करते है, भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 8 क्या होती है?

IPC Section 8 in Hindi
IPC Section 8 in Hindi

भारतीय दंड संहिता (IPC Section 8 in Hindi) की धारा 8 क्या होती है?

“ पुलिंग वाचक शब्द जहां प्रयोग किए गए हैं, वे हर व्यक्ति के बारे में लागू हैं, चाहे नर हो या नारी। ”

“ The pronoun “he” and its derivatives are used of any person male or female. ”


Also Read – IPC Section 2 in Hindi


धारा 8 क्या होती है?

ऊपर जो IPC Section 8 की डेफिनेशन दी गयी है, वो कानूनी भाषा में दी गयी है, शायद इसको समझने में परेशानी आ रही होगी। इसलिए इसको मैं थोड़ा सिंपल भाषा का प्रयोग करके समझाने की कोशिश करता हूँ। IPC Section 8 को सरल शब्दों में समझाता हूँ Indian Penal Code का जो section 8 है, वह कहता है, कि अगर नाम का Word Indian Penal Code में आ रहा है, तो उसका मतलब He (Male) भी हो सकता है ओर She (Female) भी हो सकता है। अगर कहीं पर He लिखा है तो ऐसा नहीं है कि हम यह मान लेंगे कि यह सिर्फ Male की ही बात हो रही है, वह Female भी हो सकती है। अगर किसी औरत के बारे में Lady के बारे में किसी लड़की के बारे में कोई बात कर रहा है, कहीं पर He नाम का word आ रहा है. तो He नाम का word हम shape भी मानेंगे वह Female के लिए भी बात हो सकती है उम्मीद करता हूं आपको Clear हो गया होगा।

मैंने भारतीय दंड संहिता IPC Section 8 को सिंपल तरीके से समझाने की कोशिश की है। मेरी ये ही कोशिश है, की जो पुलिस की तैयारी या लॉ के स्टूडेंट है, उनको IPC की जानकारी होनी बहुत जरुरी है। ओर आम आदमी को भी कानून की जानकारी होना बहुत जरुरी है।

See also  IPC 142 in Hindi- विधिविरुद्ध जमाव का सदस्य होने की धारा 142 में सजा, जमानत और बचाव
3.4/5 - (7 votes)
Share on:

Leave a comment