भारतीय न्याय संहिता 71 क्या है? – Bharatiya Nyaya Sanhita 71 in Hindi & English

Bharatiya Nyaya Sanhita 71 in Hindi – BNS 71 in Hindi

पुनरावृत्तिक अपराधियों के लिए दंड- जो कोई, धारा 63 या धारा 64 या धारा 65 या धारा 66 या धारा 67 के अधीन दंडनीय किसी अपराध के लिए पूर्व में दंडित किया गया है और तत्पश्चात् उक्त धाराओं में से किसी के अधीन दंडनीय किसी अपराध के लिए सिद्धदोष ठहराया जाता है, आजीवन कारावास से, जिससे उस व्यक्ति के शेष प्राकृत जीवनकाल के लिए कारावास अभिप्रेत होगा, या मृत्युदंड से दंडित किया जाएगा।

Bharatiya Nyaya Sanhita 71 in English – BNS 71 in English

Punishment for repeat offenders- Whoever has been previously convicted of an offence punishable under section 63 or section 64 or section 65 or section 66 or section 67 and is subsequently convicted of an offence punishable under any of the said sections shall be punished with imprisonment for life which shall mean imprisonment for the remainder of that person’s natural life, or with death.

Rate this post
See also  भारतीय न्याय संहिता 4 क्या है? - Bharatiya Nyaya Sanhita 4 in Hindi & English
Share on:

Leave a comment