आईपीसी धारा 14 क्या है? । IPC Section 14 in Hindi । उदाहरण के साथ

आज मैं आपके लिए भारतीय दंड संहिता (IPC Section 14 in Hindi) की धारा 14 की जानकारी लेकर आया हूँ पिछली पोस्ट में हमने आपको आईपीसी (IPC) की धारा 13 क्या है? इनके बारे में बताया था। आशा करता हूँ की  आपको समझ में आया होगा। अब बात करते है, भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 14 क्या होती है?

IPC Section 14 in Hindi
IPC Section 14 in Hindi

भारतीय दंड संहिता (IPC Section 14 in Hindi) की धारा 14 क्या होती है?

“ सरकार का सेवक शब्द सरकार के प्राधिकार के द्वारा या अधीन, भारत के भीतर उस रूप में बनाए गए, नियुक्त या नियोजित किए गए किसी भी अधिकारी या सेवक के द्योतक हैं। ”

“ The words “Servant of Government” denote any officer or servant continued, appointed or employed in India by or under the authority of Government. ”


Also Read –IPC Section 12 in Hindi


धारा 14 क्या होती है?

ऊपर जो IPC Section 14 की डेफिनेशन दी गयी है, वो कानूनी भाषा में दी गयी है, शायद इसको समझने में परेशानी आ रही होगी। इसलिए इसको मैं थोड़ा सिंपल भाषा का प्रयोग करके समझाने की कोशिश करता हूँ। IPC Section 14 को सरल शब्दों में समझाता हूँ Indian Penal Code का जो section 14 है, इसमें यह बताया गया है, कि धारा 14 ‘सरकार का सेवक’ (Government Servant) शब्द को परिभाषित करती है। Government का मतलब Only दो जगह लगाया जाएगा यानी कि जब हम बात करेंगे Government की तो वहां पर दो ही चीज़ें होंगी। या तो Central Government यानी केंद्रीय सरकार या फिर State Government. ओर जहां से हम बात करेंगे ऑफ़ Government यानी कि सरकार के सेवक की बात होगी। तो उसमे सारे के सारे officer आ जाएंगे। जो Government of India यानी कि Under The Authority Of Government यानी सरकार के आधीन जो काम कर रहे हैं, वो सारे के सारे व्यक्ति आ जाएंगे जो Continue Job कर रहे हैं या फिर जो नियुक्त किए गए हैं वह आ जाएंगे या फिर जो Employee है। वह आ जाएंगे। सब सरकार के सेवक है पर Friends हम नहीं है। सरकार किस से मिलकर बनती है। सरकार हम बनाते हैं। तो सरकार हमारी सेवा करती है।

मैंने भारतीय दंड संहिता IPC Section 14 को सिंपल तरीके से समझाने की कोशिश की है। मेरी ये ही कोशिश है, की जो पुलिस की तैयारी या लॉ के स्टूडेंट है, उनको IPC की जानकारी होनी बहुत जरुरी है। ओर आम आदमी को भी कानून की जानकारी होना बहुत जरुरी है।

See also  Latest: IPC 406 in Hindi- Criminal Breach of Trust की धारा में सजा, जमानत और बचाव
5/5 - (2 votes)
Share on:

Leave a comment